Best Hindi suspense Thriller Story

0

Hello दोस्तों आज मैं आपको इस पोस्ट में Best Hindi suspense Thriller Story | किडनैपर कौन, की story लेकर आया हूँ | दोस्तों यह कहानी Suspense से भरपूर है क्योकि इस कहानी में Detective को बहुत ज्यादा मेहनत और दिन रात एक करने के बाद मुजरिम का पता चलता है | अब मुजरिम का पता कैसे चलता है ये आप इस Story को पूरा पढ़ोगे तब समझ में आएगा |

दोस्तों ऐसे भी सभी को रोमांचक Story पढ़ने में बहुत मजा आता है क्योकि ऐसी story हमे शुरू से अंत तक बांधे रखता है | दोस्तों ऐसी Story से हमे बहुत कुछ सीखने को भी मिलता है और ऐसी कहानी पढ़ने, देखने या सुनने का अलग ही मजा है |

दोस्तों इस story को बड़े ही ध्यान पढ़ियेगा क्योकि इस तरह की कहानी जल्दी समझ में नही आती | तो चलिए दोस्तों Best Hindi suspense Thriller Story | किडनैपर कौन, की शुरुआत करते है |


Best Hindi suspense Thriller Story | किडनैपर कौन

Delhi के एक शहर में शौर्य नाम का एक बहुत ही बहादुर और Brilliant डिटेक्टिव रहता था वह अभी तक कई केस solve कर चूका था और कई खूंखार बदमाश, गुंडे को भी मार चूका था | शौर्य का एक ही लक्ष्य था समाज के दुश्मनों को खत्म करना और देश की सेवा करना |

शौर्य के साथ दो Assassinate भी रहते थे जिसका नाम सुनीता और चंद्रशेखर था | दोनों बहुत ही बहादुर और निडर थे दोनों शौर्य के साथ केस को solve करने में मदद करते थे | एक दिन तीनों ऑफिस में बैठे हुए थे फिर फ़ोन की रिंग बजती है और एक लड़की बोलती है

लड़कीDetective शौर्य में सुमन बोल रही हूँ आप जल्दी से मेरे घर आ जाइए मुझे आपसे कुछ जरूरी बात करनी है | आप plz मेरे घर जल्दी आ जाइये मैं बहुत बड़ी मुसीबत में हूँ मैं आपको अपना address भेजती हूँ |

शौर्य – आप घबराइए मत मैं अभी आता हूँ |

शौर्य अपने Assassinate चंद्रशेखर और सुनीता के साथ सुमन के घर जाता है | अन्दर जाने के बाद पता चलता है की सुमन घर पर नही होती है |

सुनीता – सुमन तो अभी घर पर नही है तब तक हम यही बैठकर उसका इन्तजार करते है |

शौर्य – हमे बैठना नही है सुनीता |

सुनीता – मतलब, आप क्या बोल रहे हो सर ? मै कुछ समझी नही |

शोर्य – मतलब ये है की सुमन का किडनैप हो चूका है और वो भी अभी से 8 मिनट पहले |

सुनीता – आप ये कैसे कह सकते हो ?

इसे भी पढ़े – Tenali Rama Story In Hindi | मेहनती कलाकार

शौर्य – कहने की बहुत सारी वजह है, पहली बात अगर कोई इंसान घर से बाहर जाएगा तो दरवाजा बंद करके जाएगा और वो अपना फोन भी साथ लेकर जाएगा लेकिन हम यहां आये तो दरवाजा खुला था और फोन टेबल पर पड़ा है,

शौर्य – दूसरी बात है मेन गेट के पास गार्ड का केबिन बना है और गार्ड भी कही नही है, तीसरी बात ये है किचन में नार्मल फ्लेम में केक बन रहा है एक केक बन्ने में लगभग 15 मिनट लगते है और टाइमर में अब भी 7 मिनट बाकी है मतलब सुमन यहा 8 मिनट पहले यहा थी

शौर्य – इसलिए चंद्रशेखर तुम अच्छे से घर की जाँच करो और कोई फिंगर प्रिंट,ब्लड या कुछ भी मिले तो उसकी पूरी डिटेल्स निकालो, तब तक सुनीता तुम घर की तलाशी लो और देखो कुछ मिलता है क्या और गार्ड कहा है पता करो | हमें किसी भी हाल में किडनैपर को ढूँढना है |

तीनो जाँच में लग जाते है फिर थोड़ी देर बाद आकर सुनीता ने शौर्य से कहा

सुनीता – मुझे गार्ड मिल गया है और किचन के पास एक घड़ी भी मिला है |

शौर्य – ठीक है फिर गार्ड कहा है ?

सुनीता – वो अलमारी में बंद था और देखकर लगता है की उसके साथ मारपीट हुई है |

शौर्य गार्ड के पास जाता है और पूछताछ करता है तो गार्ड ने बताया

गार्ड – थोड़ी देर पहले एक कार में कुछ लोग आये और जबरदस्ती घर में घुस गये, मैडम को ले जाने लगे मैंने रोकने की कोशिश की तो मेरे साथ भी मारपीट की और अलमारी में बंद कर दिया |

शौर्य – ठीक है तुम चिंता मत करो हम लोग सब पता लगा लेंगे |

चंद्रशेखर – सुमन के फिंगर प्रिंट के अलावा कुछ नही मिला, अब हम क्या करे ? हमारे पास तो कोई क्लू भी नही है और किडनैपर भी भाग चुके है अब हमे कैसे पता चलेगा की वो कहाँ पर है ?

शौर्य – हाँ, लेकिन ये सब हमे गार्ड बतायेगा |

सुनीता – गार्ड कैसे ?

शौर्य – क्योकि ये झूठ बोल रहा है, यहा एक नही दो गाड़िया आई थी, मैंने घर में आते वक्त टायरो के दो निशान देखे थे, तो गार्ड जी अब बता दीजिये आपने झूठ क्यों बोला और सुमन कहाँ है ? आप प्यार से बता दीजिये नही तो हमे और भी तरीके आते है |

गार्ड घबरा जाता है और सब कुछ सही बोलना शुरू करता है

गार्ड – मुझे नही पता की मैडम जी कहाँ है ? और मैं तो किडनैपर को जानता भी नही उन्होंने कहा था की अगर मैं उन्हें अंदर जाने दू तो वो मुझे बहुत सारे पैसे देंगे इसीलिए मैंने उन्हें जाने दिया और वो लोग बड़े काली SUV कार में आये थे, बस मुझे इतना ही याद है |

शौर्य – चंद्रशेखर तुम घर में से सुमन की फोटो लो और ट्रैफिक कण्ट्रोल को massage कर दो और उन्हें ब्लैक SUV के बारे में भी बताओ जिनके पास ऐसी कार मैं उनसे खुद मिलना चाहता हूँ |

इसके बाद चंद्रशेखर ट्रैफिक कण्ट्रोल को इन्फॉर्म करता है फिर कुछ समय बाद चंद्रशेखर कहता है

चंद्रशेखर – सर ट्रैफिक कण्ट्रोल से massage आया है की सुमन उनके पास है वो किसी गली में बेहोश पड़ी मिली और उन्हें अब तक 4 SUV कार मिली है और उन्होंने 8 लोगो को पूछताछ के लिए रोका है |

फिर थोड़ी देर बाद सुनीता बोलती है

सुनीता – ये तो 8 लोग है अब हमे कैसे पता चलेगा की किडनैपर कौन है ?

इसे भी पढ़े – Short Story With Moral – Statue Maker

शौर्य – वो ये घड़ी बताएगी |

इसके बाद शौर्य 8 लोगो से पूछताछ करने के लिए चला गया और उनमे से एक विकास नाम के एक लड़के को पकड़ लिया और विकास से उनके साथियो का भी पता चल गया और पुलिस ने भी उन सब को पकड़ लिया |

सुनीता – सर आपको घड़ी से कैसे पता चला की “विकास” ही किडनैपर है ?

शौर्य – सिंपल है, घड़ी का बेल्ट Leather का था और हमेशा घड़ी पहनने से बेल्ट का निशान पड़ जाता है तो मैंने बस बारी – बारी सबको घड़ी पहनने को कहा क्योकि जिसके भी हाथ में उसी निशान पर फिट होगी तो बेशक घड़ी उसकी होगी और अगर घड़ी भी उसकी होगी तो किडनैपर भी वही होगा, समझी |

सुनीता – जी सर |

तो दोस्तों आपको यह कैसी लगी हमे कमेंट करके जरुर बताये और साथ ही इस story को अपने दोस्तों को भी शेयर करे |


यदि दोस्तों आपके पास Hindi में कोई Suspense Story, Motivational Short Story in Hindi या अन्य Ghost Stories in Hindi है जो आप हमारे साथ शेयर करना चाहते है तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करे, हमारा id है [email protected], हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ Publish करेंगे, Thanks.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here