Best Horror Story in Hindi | भटकती हुई आत्मा

0

Hello दोस्तो आप सभी का स्वागत है आज मैं आपको एक Best Horror Story in Hindi | भटकती हुई आत्मा,  की कहानी बताने जा रहा हु, दोस्तो ये ऐसी कहानी है जो रात होते ही लोगो का शिकार करती है ।

दोस्तो यह बहुत ही ख़ौफनाक और दिल दहला देने वाली कहानी है कृपया इस कहानी को कमजोर दिल वाले ना पढ़े क्योकि हो सकता है इसे पढ़ने के बाद उसके अंदर डर पैदा हो जाये इसलिए जो अंदर से बहुत मजबूत है वही लोग ही इस कहानी को पढ़े ।

तो चलिए दोस्तों Best Horror Story in Hindi | भटकती हुई आत्मा, की शुरुआत करते है |


Best Horror Story in Hindi | भटकती हुई आत्मा

एक गांव में कमल नाम का एक लड़का रहता था और वह काम करने के लिए शहर में जाता और अक्सर शाम होते ही घर आ जाता था | एक दिन जब कमल को रात हो गई और जब वह शहर से काम करके अपने घर की ओर आ रहा था तो रास्ते में कमल का बाइक खराब हो गया |

उसका बाइक अचानक बंद हो गया उस समय उस रास्ते पर किसी का आना जाना भी नही था ।

कमल को कुछ समझ मे नही आ रहा था कि वो क्या करे क्योकि रास्ता बहुत सुनसान और डरावना भी था | कमल ने बाइक चालू करने की बहुत कोशिश की लेकिन फिर भी बाइक चालू नही हुई | अब कमल बाइक को पकड़े हुए पैदल ही आगे बढ़ गया तभी उसको रास्ते पर कुछ अजीब सी आवाज सुनाई दी |

वह बहुत डर गया और कुछ देर बाद फिर अजीब सी आवाज सुनाई दी, अब कमल ने बाइक छोड़कर पैदल ही भागते हुए निकलने का फैसला किया और उसने दौड़ लगाना शरू कर दिया ।

लेकिन कुछ दूर दौड़ने के बाद वह गिर गया तभी उसके सामने एक हाथ आया जो उसे उठाना चाह रहा था | कमल को सिर्फ हाथ ही नजर आया लेकिन वह हाथ किसका था उसको पता नहीं चला रहा था | वह बहुत डर गया लेकिन वह हिम्मत करके खुद उठ गया ।

कमल ने पूछा – तुम कौन हो ।

तभी उसे एक आवाज सुनाई दी जो कह रही थी “मैं एक भटकती आत्मा हूं” और मैं यही रहती हूं ।

यह सुनकर कमल का दिल तेजी से धड़कने लगा ।

कमल बोला – मुझसे तुम क्या चाहती हो ।

आत्मा ने कहा – बहुत दिनों से कोई नौजवान नहीं मिला तुम पहले नौजवान हो जिसे मैंने देखा है तुम पर मेरा दिल आ गया है इसलिए तुम्हारे पास आई हूं |

कमल ने कहा मैं अपने गांव जाना चाहता हूं मुझे जाने दो, मुझे छोड़ दो ।

आत्मा ने कहा बस कुछ समय रुक जाओ फिर चले जाना ।

कमल पूरी तरह से हॉफ रहा था उसकी आवाज भी नहीं निकल पा रही थी ।

कमल ने कहा – नहीं मुझे जल्दी से घर जाना है मुझे जाने दो ।

आत्मा ने कहा – बहुत थक गए हो कुछ खा पी लो फिर चले जाना ।

कमल ने कहा मुझे कुछ नहीं खाना-पीना है मेरा पीछा छोड़ दो मुझे घर जाने दो ।

आत्मा ने कहा – नही तुम अभी नही जा सकते ।

कमल ने बोला – ठीक है मुझे थोड़ा पानी मिलेगा ।

आत्मा ने कहा – तुम बस हाथ बढ़ाओ ।

तभी कमल ने हाथ बढ़ाया तो उसके हाथों में खून से भरा मिट्टी का प्याला आ गया जिसे देखकर उसने वह प्याला फेंक दिया ।

कमल बोला – मुझे पानी चाहिए खून नहीं ।

आत्मा ने कहा – मैं सिर्फ खून पीती हूं इसलिए तुम्हें खून ही पिला सकती हूं अब तुमने खून फेंक दिया है तो मैं अब तुम्हारा खून भी पीऊंगी ।

यह सुनकर कमल। पूरी तरह से घबरा गया और एक बार फिर से उसने दौड़ना शुरू कर दिया, लेकिन आश्चर्य की बात तो यह थी कि इतना दौड़ने के बाद भी वहीं था जहां से उसने दौड़ना शुरू किया था उसकी समझ में नहीं आ रहा था कि अब वह क्या करें उसने फिर से निवेदन किया ।

कमल ने बोला – मेरे मम्मी पापा मेरा इंतजार कर रहे हैं मुझे घर जाने दो ।

लेकिन आत्मा मानने को तैयार नहीं थी वह कमल को जाने नहीं दे रही थी फिर अचानक से कमल को महसूस हुआ कि उसके शरीर में कोई घुस गया है और उसे एक बार उठाकर पटक दिया और वह बेहोश हो गया |

जब उसकी आंख खुली तो उसने पाया कि वह अपने घर में है सभी उसके चारों तरफ खड़े थे, कमल सभी को देखकर चौक गया | उसके साथ क्या हो रहा था उसे कुछ समझ मे नही आ रहा था ।

कमल ने पूछा – मैं घर पर कैसे पहुंचा ।

मम्मी ने कहा – तुम रात भर घर नही आये थे, सुबह तुम आम के बगीचे में बेहोश पड़े मिले तो वहां से गुजरने वाले कुछ लोग तुम्हें उठाकर यहां ले आए ।

लेकिन सभी आश्चर्य में थे कि कमल बेहोश कैसे हो गया | और कमल को भी समझ में नहीं आ रहा था कि वह लोगों से कैसे बोले कि रात में उसे एक भूतनी से मुलाकात हुई जिसने उसे उठाकर पटक दिया था |

कमल चुप रह गया, 2 दिनों तक आराम करता रहा लेकिन रात की घटना याद आते ही उसका शरीर ठंडा हो जाता था ।

फिर वह समय आ गया जब उसे एक लड़की को देखने जाना था, जब वह लड़की देख कर लौट रहा था कि फिर से रात हो गई और एक बार फिर आत्मा ने उसका रास्ता रोक दिया ।

आत्मा बोली – आज तुम्हें नहीं जाने दूंगी ।

कमल ने कहा – मेरी शादी एक लड़की से तय हो गई है मुझे जाने दो ।

आत्मा ने कहा – मेरी भी शादी नहीं हुई है मैं भी शादी करना चाहती हूं, मैं सिर्फ तुमसे ही शादी करूंगी, मुझे तुम बहुत अच्छे लगते हो, मेरी शादी सिर्फ तुमसे ही होगी ।

कमल ने कहा – तुम एक आत्मा हो और मैं एक इंसान हूं भला इंसान की शादी एक आत्मा के साथ कैसे हो सकती है।

आत्मा ने कहा – तुम्हें भी मरना होगा और मैं बहुत ही प्यासी हूं और तुम्हें मेरी प्यास बुझानी होगी ।

कमल के बार बार निवेदन करने पर भी वह आत्मा नहीं मानी और कमल को पटकने लगी | इधर घर ना पहुंचने पर उसके घर वाले बेहद चिंतित हो गए और उसे ढूंढने के लिए बगीचे की तरफ बढ़ गए |

तभी कमल को नीचे गिरा देखकर सभी लोग घबरा गए कि तभी सभी लोगों ने कमल को होश में लाया और कमल ने अपनी सारी बात बताई जिसे सुनकर सभी लोग आश्चर्यचकित हो गए ।

गांव के सभी लोग आत्मा को देखना चाहते थे मगर कोई कहीं भी दिखाई नहीं दे रही थी तभी गांव में ही रहने वाले एक आदमी ने जोश में आकर बोल दिया कि आत्मा जैसा कुछ नहीं होता और यह सब मन का वहम होता है |

उस आदमी ने यह बोला ही था कि आत्मा ने उस आदमी को उठाकर पटक दिया अब तो वह आदमी बहुत डर गया और सभी लालटेन लेकर घर की तरफ चल दिए |

रातों-रात सभी को पता चल गया कि आम के बगीचे में एक आत्मा रहती है, तभी सभी लोगों ने भूतनी को भगाने के लिए पूजा पाठ शुरू कर दिया | फिर अंत में कमल को यह विश्वास दिला दिया कि आत्मा यहां से चली गई है |

लेकिन कमल को विश्वास नहीं हुआ और वह वापस दिल्ली लौट आया | उस दिन के बाद वह आत्मा कमल को कभी भी दिखाई नहीं दी ।


तो दोस्तों आपको Best Horror Story in Hindi | भटकती हुई आत्मा कहानी अच्छा लगा हो तो हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताये ।

यदि दोस्तों आपके पास Hindi में कोई article, Motivational Short Story in Hindi या अन्य Short Stories Hindi है जो आप हमारे साथ शेयर करना चाहते है तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करे, हमारा id है [email protected], हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ Publish करेंगे, Thanks.

इसे भी पढ़े – The Moral Stories in Hindi | एक प्रेरणादायक कहानी
इसे भी पढ़े – Sad Story in Hindi | अधूरी प्रेम कहानी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here