Heart Touching Love Story | हमारी अधूरी प्रेम कहानी

0

Hello friend’s आज मैं आपको एक ऐसी Heart Touching Love Story  कहानी के बारे में बताने जा रही हूँ जिसे पढ़ने के बाद आप को रोना आ जायेगा, ये एक बहुत ही Emotional औऱ Heart Touching  है ।

दोस्तों इस Short Story को पढ़ने के बाद आपको अपनी बिछड़े हुए love की याद आ जायेगी, ये एक ऐसी अधूरी कहानी है जहां दो प्रेमी जोड़े का सफर बीच में ही थम जाता हैं ।

दोस्तों हर Love Story का अंत एक जैसा नही होता है कभी दो सच्चे प्यार करने वाले समाज की वज़ह से मिल नही पाते तो कभी परिस्थितियों की वजह से । लिकेश और स्नेहा की Love Story ऐसी ही है जिसे पढ़कर आप लोगो की आंखे भी नम हो जाएगी की कैसे दोनों के बीच इतना गहरा प्यार होने पर भी नियति ने उनके साथ कैसा खेल खेला |

दोनों का शुरुआती सफर तो अच्छा होता है लेकिन अंत बहुत ही दुखदायी और कष्टदायी होता है, दोनों ने जो सपने देखे थे वो सारे सपने एक ही बार मे शीशे की तरह टूट जाते है ।

तो चलिए दोस्तों इस दर्द भरी कहानी की शुरुआत करते है


हमारी अधूरी प्रेम कहानी Heart Touching Love Story

 

दोस्तों ये 20 साल पुरानी बात है लिकेश और स्नेहा दोनों college के टाइम से एक दूसरे से प्यार करते थे दोनों एक दूसरे के बिना नही रह सकते थे एक बार जब दोनों पार्क में बैठे थे तो फिर दोनों ने शादी करने का फैसला लिया और अपने – अपने घर वालों को अपने प्यार के बारे में बताया और उन दोनों के परिवार वालों ने उनके प्यार को समझा और कुछ समय बाद दोनों की सगाई भी हो गई और दो महीने के बाद इनकी शादी होने वाली थी |

लेकिन शादी से पहले ऐसी घटना घटती हैं जिसकी किसी ने उम्मीद ही नहीं की थी, फिर एक दिन स्नेहा, लिकेश को कॉल करती है और बोलती है hello लिकेश, फिर लिकेश बोलता है हा बोलो स्नेहा तुम इतनी घबराई हूँ ई क्यों हो क्या हूँ आ तुम्हे | फिर स्नेहा बोली I miss you मुझे तुम्हारी बहूँ त याद आ रही हैं, फिर लिकेश बोला मुझे भी तुम्हारी बहूँ त याद आ रही है और पता नही स्नेहा आज क्यों मेरा मन सुबह से बहूँ त घबरा रहा है, फिर स्नेहा ने कहा क्या आप मुझसे मिलने आ सकते हो अभी |

तभी लिकेश ने कहा हां क्यों नहीं मेरा मन भी तुमसे मिलने को कर रहा है फिर स्नेहा ने कहा Ok मैं अभी Hospital में हूँ  Plz जल्दी आना, लिकेश थोड़ा घबरा गया लिकेश ने पूछा क्या हूँ आ तुम हॉस्पिटल में क्यों हो फिर स्नेहा ने कहा कुछ नहीं बस सुबह थोड़ी चक्कर आ गई थी आप मेरे पास जल्दी आ जाओ ना लिकेश I realy miss u, फिर लिकेश बोला ठीक है मैं आ रहा हूँ  तुम घबराना मत सब ठीक हो जाएगा ,लिकेश ने फ़ोन रखा और तुरंत स्नेहा से मिलने चला गया |

जब लिकेश Hospital पहूँ चता है तब वहां स्नेहा बेहोश पड़ी रहती है ,लिकेश यह सब देखकर बहूँ त घबरा जाता है फिर कुछ समय बाद स्नेहा के पापा से पूछता है क्या हूँ आ अंकल स्नेहा बेहोश क्यों है |

फिर स्नेहा के पापा ने रोते हुए कहते हैं बेटा स्नेहा को बहुत बड़ी बीमारी है उसे Blood Cancer है और अभी आखिरी स्टेज पर है डॉक्टर कह रहे है कि उसके पास अब वक़्त बहुत कम है वो अपनी जिंदगी की आखिरी लड़ाई लड़ रही है Plz बेटा स्नेहा को कुछ मत बताना अभी उसे कुछ भी पता नही है ।

स्नेहा के पापा की ये बाते सुनकर लिकेश घबरा जाता है वह कुछ बोल ही नही पाता है वह बहुत रोता है, फिर कुछ समय बाद स्नेहा को होश आती हैं फिर लिकेश तुरंत मिलने चला जाता है लेकिन दरवाजे पर वो अपने आंसू पोछता है फिर अंदर जाता हैं |

लिकेश बोलता है स्नेहा कैसी हो तुम फिर स्नेहा बोलती है अब तुम आ गए हो सब ठीक हो जाएगा फिर लिकेश बोलता है हमारी शादी को कुछ ही दिन बचे हैं और तुमने अपनी तबियत खराब कर ली ठीक से खाया करो ना और खुश रहा करो लिकेश स्नेहा को समझाता है |

फिर स्नेहा बोलती है ठीक है जी अब मैं अच्छे से खाना खाऊँगी और हमेशा खुश रहूंगी और आज से मैं आपकी हर बात मानूँगी अब आप जो बोलोगे वो मैं करूँगी, लिकेश को मन ही मन बहुत रोना आता है वह रोना चाहता है लेकिन रो नही पाता है, कुछ समय बाद लिकेश खुद पर काबू नहीं कर पता है और रोने लगता है |

तभी लिकेश रोते हुए बोलता है तुम जल्दी ठीक जाओ और भगवान करे तुम्हे मेरी उम्र लग जाये, ये कहते हुए लिकेश स्नेहा के सिर को अपनी बाहों में रख लेता है फिर स्नेहा बोलती है अरे आप रोइये मत मै जल्दी ठीक हो जाउंगी, आपने मेरा बहुत ख्याल रखा है |

और स्नेहा लिकेश से बोलती है मैं आपके बांहों में थोड़ी देर अपने सीर को ऐसे ही रखना चाहती हूँ | लिकेश स्नेहा की सिर को सहलाने लगता है और रोते रहता है तभी थोड़ी देर बाद अचानक लिकेश को यह अहसास होता हैं कि अब उसकी स्नेहा नही रही, लेक़िन तब भी लिकेश स्नेहा को अपनी बाहों में थामे रखता है और उसके आंखों से आंसू बहने लगते है, वह बेसुध पड़ा रहता हैं |

तभी थोड़ी देर बाद स्नेहा के पापा जब अंदर कमरे में जाते हैं जहाँ वो देखते है कि उनकी बेटी ने लिकेश की बाहों में दम तोड़ दिया हैं और लिकेश भी स्नेहा को अपनी बाहों में जकड़कर बैठा हुआ है

उस दिन के बाद से लिकेश बहुत टूट चुका था उसने अपनी पूरी जिंदगी स्नेहा की यादों के संग बिताने का फैसला लिया और उसने किसी और लड़की से न तो प्यार किया और न हीं किसी और लड़की से शादी की | उन्होंने अपनी पूरी जिंदगी स्नेहा की याद में बिता दी |

तो दोस्तों ये तो थी आज की कहानी Heart Touching Love Story कुछ लोग किसी से इतना प्यार करते है की उसके न होने पर भी उसे उसकी कमी कभी महसूस नहीं होती | लिकेश भी स्नेहा से बहुत प्यार करता था स्नेहा के न होने से भी लिकेश का प्यार स्नेहा के लिए थोड़ा भी कम न हुआ |

तो दोस्तों ये तो थी आज की इमोशनल कर देने वाली कहानी, हो सकता है इस कहानी ने आपको भी थोड़ा इमोशनल कर दिया हो | दोस्तों हमे Comment box में कमेंट करके बताइये की आपको ये स्टोरी कैसे लगी ।

दोस्तों ऐसे ही Sad love story हम आपके लिए लाते रहेंगे, हमारी ऐसी और Story in Hindi पढ़ने के लिये इस वेबसाइट के साथ जुड़े रहिये ।

 

Undiscovered Love Story In Hindi – अनदेखे प्यार की कहानी 

Short Story In Hindi Love At First Sight – पहली नज़र का प्यार 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here