Real Ghost Stories In Hindi | भूत की कहानी

0

हेलो दोस्तो मेरा नाम समीर है आज मैं आप लोगों को एक Real Ghost Stories In Hindi बताने जा रहा हूँ यह एक सच्ची घटना पर आधारित कहानी है | यह कहानी मुझे मेरे दोस्त अंकित ने भेजा था जो उसके साथ घटित हूआ था ।

दोस्तो यह एक ऐसी स्टोरी जिसे पढ़ने के बाद आपके अंदर कुछ समय के लिए डर का माहौल पैदा हो जाएगा | जिसे Chudail Ki Kahani, Real Ghost Story आदि पर विश्वास नही होता है वह इस स्टोरी को पढ़ने के बाद उन पर  विश्वास करने लगेगा कि वास्तव में Ghost, Chudail आदि होता है ।

तो चलिए दोस्तो मेरे दोस्त अंकित द्वारा भेजी गयी  Real Ghost Story In Hindi उसी के द्वारा जानते है ।


Real Ghost Stories In Hindi

हेलो दोस्तो मेरा नाम अंकित शर्मा है, मैं हैदराबाद का रहने वाला हूँ और मैं एक IT कंपनी में Job करता हूँ मुझे IT कंपनी के जॉब करते हुए 2 साल हो गए, मैं अपने जॉब से बहुत खुश हूं और मैं अपने जॉब को एंजॉय के साथ कर रहा हूँ ।

दोस्तो मेरे साथ एक दिन दिल दहला देने वाली घटना घटी, इस घटना को लगभग 3 साल हो गये है | 25 जुलाई 2017 इस दिन को मैं कभी भी नहीं भूल सकता और मैंने इसे बहुत भुलाने की कोशिश की लेकिन यह एक काले धब्बे की तरह मेरे दिमाग में चिपक गया है ।

इसी दिन मैंने  Tender App पर एक लड़की के साथ पहली डेट की थी जिसका नाम रिया थी, इस लड़की से मेरे टिंडर पर ही मुलाकात हुई थी मुझे अभी भी यकीन नहीं हो रहा था कि मैं इतनी खूबसूरत लड़की के साथ डेट पर जाने वाला हूं ।

हम दोनों ने Tinder पर ही बहुत ज्यादा बातें की और फिर जाके डेट का दिन डिसाइड किया मैं उस दिन के लिए बहुत ज्यादा एक्साइटेड था हम दोनों प्रताप नगर के एक कैफे कॉफी सेण्टर में जाकर मिले मैं उसके सामने थोड़ा नर्वस था ।

लेकिन मुझे उस लड़की के साथ बात करने में इतना पता चल गया कि लड़की कुछ प्राइवेट है मतलब वो अपने बारे में कुछ ज्यादा नहीं बता रही थी जैसे की वह क्या करती है कहां रहती है कुछ भी नहीं ।

मुझे ऐसा लगा जैसे मानो बस मैं कंफर्टेबल नहीं हूँ लेकिन मैंने अपनी सारी बातें खुलकर के उसके सामने रखी जैसे मैं क्या करता हूं मेरे घर में कौन-कौन है यह सब कुछ ।

मैं उससे ज्यादा से ज्यादा घुलने कोशिश कर रहा था पर कुछ 1 घंटे बैठने के बाद उस लड़की ने मुझसे कहा कि सुनो मैं तुम्हें जो जो बताने वाली हूं उसे ध्यान से सुनना,

मैं भी थोड़ा इस बात को लेकर एक्साइटेड हो गया कि आखिर कौन सी बात है जो मुझे वह बताना चाहती है

रिया ने कहा – तुम मुझे बहुत अच्छे लड़के लग रहे हो और तुम पर ट्रस्ट भी किया जा सकता है और मुझे तुम्हें ऐसी बात बतानी है इसे सुनकर शायद तुम यकीन ना करो लेकिन यह बिल्कुल सच है

असल में मैं दिल्ली में 3 दिन पहले ही आई हूं और मैंने यहां पर एक फ्लैट लिया है और जब से मैं उस फ्लैट में रह रही हूं तब से मैं 3 दिन से सोयी भी नहीं हूं मुझे उस फ्लैट में रहने में बहुत कुछ अजीब सा लगता है ऐसा लगता है जैसे मेरे फ्लैट में और भी कोई रहता हूं पर वह दिखता नहीं है मुझे बहुत ज्यादा डर लगता है अपने फ्लैट के अंदर ।

मैं यह सारी बातें ध्यान से सुन रहा था ।

रिया ने कहा – मैं चाहती हूं कि आज तुम मेरे साथ मेरे घर चलो ।

रिया के यह कहते ही मैं मन ही मन बहुत ज्यादा खुश होने लगा मुझे लगा कि शायद इसका तरीका है मुझे आज अपने साथ अपने घर ले जाने का ।

मैने कहा – ठीक है बिल्कुल जाएंगे ।

रिया ने कहा – देखो तुम मेरे साथ मेरे घर तो चल रहे हो लेकिन वहां पर ऐसा कुछ भी नहीं करेंगे जैसा तुम मन में सोच रहे हो ।

पर पता नहीं क्यों मेरे भी मन में कुछ न कुछ प्रश्न उठ रहे थे उसकी आंखों में मुझे भी डर दिख रहा था पर खैर उसके घर में ऐसा कुछ है या नहीं ये मुझे सच में कुछ ऐसे कुछ इरादे के लिए वह घर पर ले जा रही है वह तो मुझे उसके घर पर जाने के बाद पता चलेगा ।

करीब रात के 10:00 बजे हम दोनों उसके घर में पहुंचे वह घर 1BHK फ्लैट था जो कि फोर्थ फ्लोर पर था उसके फ्लैट में सिर्फ एक बेड रूम और एक हॉल था |

इसे भी पढ़े – Chudail ki Kahani Bhutiya | चुड़ैल की कहानी 

पर सही बताऊं उसके घर के अंदर एंट्री करते ही मेरे को भी कुछ अजीब सा लगने लगा मुझे ऐसा लग रहा था जैसे मानो अंदर ही अंदर मेरी तबीयत खराब हो रही हो उसके घर से कुछ अजीब सी स्मैल आ रही थी ।

फिर हम दोनों उसके बेडरूम में पहुंचे और हमने रात भर बहुत सारी बातें कि उसके बातों से लग गया था कि आज रात हम दोनों के बीच ऐसा कुछ भी नहीं होने वाला है मैंने भी बहुत ट्राई करने की कोशिश की और उसने हमेशा मना कर दिया ।

थोड़ी देर में बातें करते करते वह सो गयी और मैं जगा रह था उसके सोने के बाद मैं बैठ के मोबाइल चला रहा था बेडरूम का दरवाजा खुला हुआ था और बेडरूम के दरवाजे से साफ-साफ हॉल देखा जा सकता था हॉल में सिर्फ एक सोफा और टेबल रखा हुआ था, ज्यादा कुछ सामान घर में नहीं था शायद इसलिए क्योंकि वह अकेले रहती थी ।

तभी मैंने हॉल के अंदर आदमी की बड़ी सी परछाई देखी मैंने सोचा कि मैं रिया को जगाऊँ और उस बारे में बताऊं लेकिन मैंने सोचा कि छोड़ो और ज्यादा डर जाएगी इसीलिए मैंने खुद उस हॉल में जाकर चेक करने की कोशिश की ।

मैं वहां पर गया वह हॉल की लाइट चालू थी पर मुझे वहां पर ऐसा कुछ भी नहीं दिखा यहां तक कि मैंने वाशरूम भी खोल कर देखा तो वहां पर कुछ भी नहीं था, मैने सोचा शायद ये मेरे मन का भ्रम है मैने ज्यादा ध्यान नही दिया ।

तभी अचानक मुझे लगा की जैसे पीछे सोफा पर कोई बैठा हुआ है अचानक से पीछे मुड़ा लेकिन वहां पर कोई भी नहीं था, अब मुझे सच में घर में किसी के होने की मौजूदगी महसूस होने लगा था ।

अब मुझे भी थोड़ा थोड़ा डर लगने लगा था, मैने थोड़ी देर बाद फिर से एक परछाई देखी | अब मेरे हाथ पैर कांपने लगे थे, मेरे दिल का धड़कन जोर जोर से धड़कने लगा था | अब मुझे ये फील हो रहा था कि यहां पर कोई ना कोई है, यहां पर कोई Ghost या कोई आत्मा तो है ।

अब मुझे लगा अब जाकर रिया को उठाना ही सही रहेगा मैं भागते हुए उसके पास गया तो मैंने देखा वह अपने बेड पर है ही नहीं, आखिर वो कहां गई, बेड उतना ऊँचा था ही नहीं कि कोई इंसान उसके नीचे जा सके |

मैं जस्ट अभी अभी हॉल से बेडरूम में गया था  जहां पर रिया  नहीं थी आखिर इस दो रूम के अलावा वो कहां जा सकती है यह देखते ही मेरे रोंगटे खड़े हो गए और वो स्मैल जो शुरू शुरू में आ रही थी और ज्यादा बढ़ने लगी।

तभी अचानक मुझे किसी के चलने की आवाज सुनाई दी ऐसा लगा कि कोई मेरे नजदीक ही आ रहा है, फिर अचानक किसी के बाल के टुकड़े मेरे सामने आ गए, तभी अचानक से लाइट off हो गई, फिर कुछ समय बाद अपने आप ही लाइट आ गई ।

मैं पसीने से पूरी तरह भीग गया था, मेरे मुंह से कुछ आवाज नही निकल पा रहा था ।

इसे भी पढ़े – Ghost Stories in Hindi | भूतिया ट्रेन

अब मुझे कुछ गलत होने का एहसास होने लगा था मैंने जल्दी से टेबल पर रखी अपनी कार की चाबी उठाई सीधा फ्लैट से भागा मैंने अपना कार चालू किया और सीधा अपने घर पर जाकर रुका ।

उस दिन के बाद मैं कभी भी उस फ्लैट पर नहीं गया और ना ही कभी उस रास्ते पर गया मैंने उस लड़की को भी टिंडर पर बहुत ज्यादा मैसेज करने की कोशिश की लेकिन मुझे एक भी रिप्लाई नहीं आया ।

साथ ही कुछ दिनों बाद उसका टिंडर प्रोफाइल delete हो गया और उस दिन के बाद मैंने भी अपना टिंडर अकाउंट हमेशा के लिए डिलीट कर दिया ।


तो दोस्तों ये तो थी हमारी मेरे दोस्त अंकित की कहानी  

आपको हमारी Real Ghost Stories In Hindi कैसी लगी हमें कमेंट करके जरुर बताये और आपके पास भी ऐसी ही Horror Story है जो आप हमसे शेयर करना चाहते है तो निचे दिए id पर हमें मेल करें |

हम आपके लिए और भी Real Ghost Stories In Hindi और अन्य कहानीया लाते रहेंगे इसलिये आप हमारे वेबसाइट को बुकमार्क करके जरुर रखे |

यदि दोस्तों आपके पास Hindi में कोई article, Real Ghost Stories In Hindi या अन्य Short Stories Hindi है जो आप हमारे साथ शेयर करना चाहते है तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करे, हमारा id  है  [email protected], हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ Publish करेंगे, Thanks.

इसे भी पढ़े – Short Horror Story In Hindi | मृत माँ की ममता

Hindi Short Stories PDF

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here