Tenali Rama Story In Hindi | मेहनती कलाकार

0

Hello दोस्तों आज मैं आप सभी को Tenali Rama Story In Hindi | मेहनती कलाकार की कहानी बताने जा रहा हूँ | दोस्तों यह एक परिश्रम की कहानी है, इस दुनिया में बिना मेहनत कुछ भी नही मिलता, दोस्तों इस कहानी को बड़े ही ध्यान से पढ़िये |

तो चलिये दोस्तों Tenali Rama Story In Hindi | मेहनती कलाकार, की शुरुआत करते है और इस कहानी से कुछ सीखने का भी प्रयास करते है और साथ ही इस कहानी के माध्यम से ये जानने की कोशिश करेंगे की हमें मेहनत क्यों करनी चाहिए |


Tenali Rama Story In Hindi | मेहनती कलाकार

एक राज्य में राजा कृष्णदेवराय नाम का एक राजा रहता था | वह बहुत ही बहादुर था और हमेशा अपने जनता की भलाई के बारे मे ही सोचता था | उसी राज्य में तेनालीराम का एक दरबारी रहता था वह सबसे प्रमुख और बुद्धिमानी दरबारी माना जाता था |

एक दिन की बात है, राजा कृष्णदेवराय अपनी राज दरबार में थे और उस दिन थोड़ी-थोड़ी बारिश हो रही थी बारिश का मौसम भी अभी-अभी शुरू हुआ था | वो दिन का आनंद ले रहे थे बारिश की बूंद और बिजली की गर्जना का आनंद ले रहे थे | उसी समय राजा ने अपनी इच्छा जाहिर की उन्होंने कहा

राजा – इस साल इस मौसम का उत्सव बड़े उत्साह से मनाना चाहते हैं | हम अपने राज्य की बहुत ही उत्तम कलाकार को इनाम देना चाहते है, जो सबसे श्रेष्ट, ईमानदार और मेहनती हो इसलिए आप सभी दरबारियों से निवेदन है की सबसे उत्तम कलाकर की खोज शुरू की जाये |

राज्य का सबसे उत्तम कलाकार कौन है इस बारे में चर्चा हो रही थी, सभी अपनी अपनी राय दे रहे थे | तभी एक दरबारी ने कहा

दरबारी – महाराज इस साल आप हमारे दरबार के कलाकार धनीराम को पुरस्कृत कर सकते हैं, वह बहुत ही होनहार और मेहनती है |

धीरे-धीरे करके सभी दरबारी अपनी अपनी राय दे रहे थे फिर अंत मे तेनालीराम ने कहा

तेनालीराम – महाराज यह समय है कि एक सच्चे कलाकार को खोज कर उसका सम्मान किया जाए

राजा कृष्णदेवराय – सच्चे कलाकार का मतलब क्या है तेनाली ?

तेनालीराम – महाराज सच्चे कलाकार जो दूसरों को खुश करने के लिए कुछ नहीं करते वह अपनी कला से अपनी पहचान बनाते हैं, ऐसे ही एक कलाकार को जानता हूं |

राजा उस कलाकार से मिलना चाहते थे अगले ही दिन राजा और तेनालीराम रथ में बैठकर जंगल की ओर चल पड़े, वे काली पहाड़ी गुफा में पहुंचे, उस गुफा के अंदर बहुत सी मूर्तियां बनी हुई थी |

मूर्तिकार को पता ही नहीं चला कि कोई गुफा में आया है और उसे देख रहा है, वह अपने काम में इतना व्यस्त था और  वह मूर्तिकार अपने पूरे मन से मूर्ति बना रहा था | वह मूर्तिकार बहुत ही मेहनती और ईमानदार भी था | राजा उसके पास गए और उससे कहा

राजा – हे कलाकार ये किसकी मूर्ति है ?

कलाकार – हे महाराज यह एक देवी की मूर्ति है यह देवी सुंदर फूल और वस्तु की तारीफ कर रही है और अपनी सृष्टि का आनंद ले रही है |

राजा – आपने ये मूर्ति कैसे बनाई ? यह मूर्ति वाकई अद्भुत है और ऐसा लग रहा है की ये मूर्ति नही कोई जीवित प्राणी है

कलाकार – हे महाराज यह मूर्ति मैंने अपने कठिन परिश्रम, सच्ची श्रध्दा और सच्चे दिल से मेहनत करके बनाया है, इस मूर्ति को बनाने में मुझे कई साल लग गये, तब जाके यह मूर्ति बनी है |

राजा ने एक बार फिर उस सुंदर मूर्ति को देखा उसने सोचा ये कलाकार इनाम पाने का सही हकदार है | ये मूर्ति सच मे बहुत ही सुंदर और अदभुत है | अगले ही दिन कलाकार को राजा के दरबार में बुलाया गया और उसे इनाम दिया गया राजा ने कलाकार को पहचानने के लिए तेनाली का भी आदर किया |

दोस्तो ईमानदारी से किए गए काम का फल हमेशा मीठा होता है तो हमेशा इमानदार रहे और पूरी ईमानदारी और लगन से अपने काम मे व्यस्त रहे, आपको उसका फल जरूर मिलेगा |

तो दोस्तों आपको यह Tenali Rama Story In Hindi | मेहनती कलाकार, की Story कैसी लगी हमे कमेंट करके जरुर बताये और साथ ही इस स्टोरी को अपने दोस्तों के शेयर कीजिये |

इस दुनिया में जितने भी Scientist है वो लोग एक दो बार में हार नहीं मानते कई Scientist ने एक चीज को खोज करने के लिए अपनी पूरी जिंदगी लगा दी, कई किसान भी दिन रात मेहनत करके बिना थके काम करते रहते है और हमारे लिए फसल उगाते है, सैनिक भी अपने देश को सुरक्षित रखने के लिए दिन रात लगे रहते है मेहनत करते रहते है |


इसे भी पढ़ेShort Story With Moral – Statue Maker

इसे भी पढ़ेRomantic Stories In Hindi | 18 साल बबली की प्रेम कहानी

यदि दोस्तों आपके पास Hindi में कोई article, Short Story in Hindi या Ghost Stories in Hindi या  अन्य कोई भी Story है, जो आप हमारे साथ शेयर करना चाहते है तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करे, हमारा id है [email protected], हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ Publish करेंगे, Thanks.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here